AMIT LEKH

Post: लैंड शो करे तेजस्वी यादव, पटना है 43 बीघा जमीन, मुख्य प्रवक्ता नीरज कुमार बड़ा दावा

लैंड शो करे तेजस्वी यादव, पटना है 43 बीघा जमीन, मुख्य प्रवक्ता नीरज कुमार बड़ा दावा

विशेष ब्यूरो बिहार दिवाकर पाण्डेय की रिपोर्ट :

जेडीयू एमएलसी और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता नीरज कुमार ने लालू परिवार पर बड़ा हमला बोला है

न्यूज डेस्क, राजधानी पटना 

दिवाकर पाण्डेय

– अमिट लेख
पटना, (ब्यूरोरिपोर्ट)। जेडीयू एमएलसी और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता नीरज कुमार ने लालू परिवार पर बड़ा हमला बोला है। नीरज कुमार ने मीडिया के सामने कुछ दस्तावेज पेश करते हुए बताया है कि लालू परिवार के पास कहां और कितनी संपत्ति है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव को लैंड शो करना चाहिए। नीरज कुमार ने दावा करते हुए कहा कि सिर्फ पटना में लालू परिवार के पास 43 बीघा जमीन है। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि वह जो आंकड़ा दिखा रहे हैं वो गलत है तो तेजस्वी यादव मानहानि का मुकदमा दर्ज करें। उन्होंने कहा कि 2024 में सरकार बनने के बाद लालू परिवार की इन सभी जमीनों को जब्त किया जाएगा। जब्त की गई जमीनों पर अनाथालय आश्रम, वृद्धा आश्रम आदि खोला जाएगा। नीरज कुमार ने चेतावनी देते हुए यहां तक कह दिया कि कोई माई का लाल पैदा नहीं लिया जो इस संपत्ति को बचा लेगा। गुरुवार को बिहारशरीफ में पार्टी कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जेडीयू प्रवक्ता ने ये बातें कहीं।

नीरज कुमार ने कहा कि लालू यादव बराबर कहते हैं कि संविधान और आरक्षण खतरे में है। कौन माई का लाल पैदा लिया है, जो आरक्षण और संविधान पर खतरा पैदा करेगा? उन्होंने कहा कि जो संविधान के खतरे के बारे में बोल रहे हैं, उसी संविधान के तहत लालू यादव जेल गए थे। नीरज कुमार ने दावा करते हुए कहा कि इस लोकसभा चुनाव में एक भी सीट महागठबंधन को नहीं आएगी। वहीं दूसरी ओर आरजेडी प्रमुख लालू यादव ने एक बार फिर आरक्षण के मुद्दे को लेकर बीजेपी पर जमकर हमला बोला है। सोशल मीडिया मंच एक्स पर पोस्ट शेयर कर लालू ने देशवासियों के लिए संदेश लिखा। लालू ने कहा कि देश का संविधान नहीं रहेगा तो देश में लोकतंत्र भी नहीं रहेगा। पोस्ट में लिखा है कि प्यारे देशवासियों, सतर्क और सावधान हो जाइए! भाजपा आपका आरक्षण, देश का लोकतंत्र और संविधान खत्म करने पर तुल गया है। देश का संविधान नहीं रहेगा तो देश में लोकतंत्र भी नहीं रहेगा। आप देश के समान रूप से नागरिक भी नहीं रहेंगे। आप ऐसे नागरिक नहीं रहेंगे जिनके पास अधिकार होंगे, संवैधानिक सुरक्षा और उपचार के उपाय हों। आप चंद लोगों के गुलाम मात्र रह जाएंगे।

Leave a Reply

Recent Post