AMIT LEKH

Post: पटना चिड़िया घर में जल्द चलेगी टाॅय ट्रेन, खर्च होगे लगभग दस करोड़ रूपये

पटना चिड़िया घर में जल्द चलेगी टाॅय ट्रेन, खर्च होगे लगभग दस करोड़ रूपये

विशेष ब्यूरो बिहार दिवाकर पाण्डेय की रिपोर्ट :

प्रशासन ने टॉय ट्रेन की पटरी बिछाने के लिए दानापुर रेलमंडल के साथ समझौता भी कर लिया है
न्यूज डेस्क, राजधानी पटना

दिवाकर पाण्डेय

– अमिट लेख
पटना, (ए. एल. न्यूज़)। केंद्रीय चिड़िया घर प्राधिकरण ने पटना के संजय गांधी जैविक उद्यान में टॉय ट्रेन चलाने की अनुमति दे दी हैं। इसके बाद उद्यान प्रशासन ने टॉय ट्रेन की पटरी बिछाने के लिए दानापुर रेलमंडल के साथ समझौता भी कर लिया है। इसके बाद पटरी बिछाने का काम भी शुरू जल्द शुरू हो जाएगा। टॉय ट्रेन के लिए कुल 9.88 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। ट्रेन की पटरी की लंबाई 3.4 किलोमीटर लंबी होगी। दरअसल, पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रेम कुमार ने बताया कि संजय गांधी जैविक उद्यान के पांच वर्षीय विजन डाक्यूमेंट (2024-25) का विमोचन उद्यान में करने के दौरान दी। उन्होंने कहा कि संजयगांधी जैविक उद्यान में जुलाई माह के अंत तक दर्शकों को सात तरह के फाउंटेन देखने को मिलेगा। पटना जू को देश का पहला सर्वश्रेष्ठ जू बनाते हुए अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनाने का लक्ष्य रखकर कार्य किया जा रहा है। वर्तमान समय में देश में चौथे स्थान पर है। वहीं, मंत्री प्रेम कुमार नेचिड़ियाघर का निरीक्षण किए। जिराफ केज में गए और जिराफ को केला और पत्ता खिलाए। छोटी बिल्ली केज के निमर्सध कार्यो को देखने के दौरान कहा कि जून माह के अंत तक निर्माण कार्य पूर्ण हो जाएगा। मंत्री पक्षी केज में पहुंचे। उन्हें पानी के फव्वारा देकर ठंड का माहौल बनाया जा रहा है। प्राकृतिक माहौल देखकर प्रसन्न हो गए। सांप घर में लगे एसी देखे।चिकित्सक डा. समरेंद्र बहादुर सिंह ने मंत्री को बताया कि किस तरह से लू से बचाव की तैयारी की गई है। उद्यान निदेशक सत्यजीत कुमार ने चिड़ियाघर के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उधर, पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रेम कुमार शाम में राजधानी वाटिका के तालाब में शिकारा पर सवार होकर नौकायन किया। नौकायन के दौरान तालाब में हंस देखकर प्रसन्न हो गए। नौकायन कर रहे शहरवासियों से बात किए। मंत्री ने नौकायन करने के बाद कहा कि इसपर आनंद आ गया। राजधानीवाटका कि खूबसूरती देकर काफी प्रसन्न हो गए। मंत्री के साथ पार्क प्रमंडली के डीएफओ सुबोध कुमार गुप्ता और पटना वन प्रमंडल के डीएफओ गौरव ओझा मौजूद थे।

Leave a Reply

Recent Post